मिड डे मील मामले में योगी सरकार की हो रही छीछालेदर, प्रशासन जुटा जी हुजूरी में ? विस्तार से पढ़े पूरी खबर

0
122

मिर्जापुर। मामला 22 अगस्त सुबह तकरीवन 10 बजे का है जब पत्रकार पवन जयसवाल को सूचना मिली कि यहां बच्चो के मुँह से उनके हक़ का निवाला छीनकर प्रशासन अपना पेट भर रहा है सूचना के आधार पर पत्रकार पवन मिर्जापुर के सियुर प्राइमरी स्कूल पहुंचे तो उन्होने देखा की स्कूल के बच्चो को मिड डे मील के खाने के नाम पर नमक रोटी परोसी जा रही थे मामले को देखकर पत्रकार पवन ने वीडियो बनाया और सम्बंधित अधिकारियो को सूचना दी

मामले की सूचना मिर्जापुर के D M अनुराग पटेल को मिलते ही उन्होने मामले को संज्ञान मैं लिया और पत्रकार पवन जायसवाल की खिलाप धारा 420 और अन्य कई धाराओं के तहत FIR दर्ज कर ली गयी वही D M अनुराग पटेल का मानना है पत्रकार ने जिले की छवि खराव की है व् धोखाधड़ी से वीडियो बना लिया कुछ अध्यापको मिलकर वही उनका तर्क है वे पत्रकार अखबार के है तो उन्होने वीडियो क्यों बनाया

देखते ही देखते मामला हाई प्रोफाइल बना गया पत्रकार के समर्थन मैं पत्रकारों ने D M कार्यालय के बहार धरना प्रदर्सन पर बैठ गए पत्रकरो ने प्रशासन के खिलाप जमकर नारेवाजी की और मांग की की पत्रकार जायसवाल के खिलाफ लगाए गए आरोप बेबुनियाद और मनगढ़न्त है प्रशासन अपनी नाकामी छिपाने का कार्य कर रहा है

देखने वाली बात अब ये होंगे की उत्तर प्रदेश की सरकार किस नजर से देखती है क्या उत्तर प्रदेश के शिक्षा मंत्री ऐसे अध्यापको के खिलाफ कोई कार्यवाही करेंगे या मुँह मैं दही जमाये बैठे रहेंगे और क्या मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ प्रशासन को निर्देश देंगे ऐसे ही प्रशासन से जूझ रहे तमाम झूठे मुकददमे ऐसे ही फल फूलते रहेंगे