सैफई मे नेता जी के जन्मदिन समारोह मे मुलायम कुनबे को कोई सदस्य नही आया

संवाद सहयोगी,सैफई: नेता जी के जन्मदिन के बहाने परिवारिक एकता का दावा करने वाले पीएसपी प्रमुख शिवपाल सिंह को करारा झटका तब लगा जब नेता जी के जन्मदिन पर आयोजित समारोह में मुलायम परिवार का कोई भी सदस्य नही आया ।
अपने भतीजे और समाजवादी पार्टी यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव से लंबी अनबन के बाद नेता जी मुलायम सिंह यादव ने जन्मदिन के बहाने शिवपाल सिंह ने एक बार फिर से पारिवारिक एकता की वकालत की थी। तीन दिन पहले शिवपाल सिंह यादव ने नेताजी के जन्मदिन को एकता दिवस के तौर पर मनाने की बात पत्रकारों के समक्ष रखी थी ।

इसी दरम्यान शिवपाल सिंह यादव ने यह बात भी कही थी कि वह तो चाहते हैं परिवार की एकता नेताजी के जन्मदिन एक बार फिर से शुरू हो और यह उम्मीद जताई थी कि सैफई के मास्टर चंदगीराम स्पोर्ट्स स्टेडियम में आयोजित नेताजी के जन्मदिन समारोह में परिवार के कई सदस्य शामिल होने के लिए पहुंचेंगे हालांकि शिवपाल सिंह यादव पहले ही नेताजी के शामिल ना होने की बात कह चुके थे ।

उन्होंने स्पष्ट किया था कि असल में एक तो संसद चल रही है दूसरे नेता जी का स्वास्थ्य भी ठीक नहीं है इसलिए उनके इस समारोह में शामिल होने की संभावना नहीं है । शिवपाल सिंह यादव की बात के बाद में ऐसी उम्मीदें जताई जा रही थी कि परिवार के कई सदस्य सैफई में आयोजित जन्मदिन समारोह में शामिल जरूर होंगे लेकिन आज संपन्न हुए इस समारोह में परिवार का कोई भी सदस्य शामिल नहीं हुआ ।

जहां खुद मुलायम सिंह यादव के भाई प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव शामिल हुए वही उनके बेटे पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव आदित्य यादव अंकुर,पूर्व मंत्री रामसेवक यादव, प्रदेश अध्यक्ष सुंदर लाल लोधी, पूर्व सांसद  रघुराज सिंह शाक्य,पूर्व मंत्री अर्चना,कुमदेश चन्द्र यादव,सुनील यादव जिला अध्यक्ष, फरहान शकील,कृष्ण मुरारी गुप्ता, अनवार हुसैन, पूर्व विधायक सुखदेवी वर्मा,सैफई प्रधान दर्शन सिंह यादव के अलावा सैकडो की तादात में  लोग जुटे लेकिन अगर कोई शामिल नही हुए तो वो वो मुलायम परिवार के सदस्य ही है । जिनके शामिल होने की खासी उम्मीद जताई जा रही थी ।

यह पहला मौका नहीं है कि जब शिवपाल सिंह यादव ने नेता जी का जन्मदिन सैफई में मनाया हो इससे पहले भी शिवपाल सिंह यादव नेताजी का जन्मदिन भव्यता पूर्ण ढंग से मना चुके हैं लेकिन ऐन मौके पर पिछले साल नेता जी अपने जन्मदिन समारोह में शामिल नही हुए थे जब कि उनका सैफई आने का कार्यक्रम फाइनल था । जब नेता जी सैफई समारोह में शामिल होने के लिए नहीं आए तो इस बात का आरोप शिवपाल सिंह यादव समर्थकों की ओर से लगाया गया कि अखिलेश यादव समर्थकों ने जानबूझकर के नेता जी को सैफई समारोह में शामिल होने नहीं आने दिया ।